विश्व की सबसे ऊंची चोटियां

ऊँचे ऊँचे पहाड़ और पर्वतों पर चढ़ने का प्रयास तो कई लोग करते हैं और सफल भी हो जाते हैं लेकिन जब बात माउंट एवरेस्ट या ऐसी ही दूसरी सबसे ऊंची चोटियों की आती है तो लोग वहां चढ़ने की हिम्मत भी नहीं कर पाते। आइये आज आपको अवगत कराते हैं विश्व की सबसे ऊंची चोटियों से जिनके शीर्ष पर पहुंचना हर किसी के बस की बात नहीं है।

1. माउंट एवरेस्ट – अगर दुनिया की सबसे ऊंची चोटी की बात की जाये तो उसमे सबसे पहले नाम आता है माउंट एवरेस्ट का जिसकी ऊंचाई है 8,848 मीटर। ब्रिटिश सर्वेयर सर जॉर्ज एवरेस्ट को सम्मान देने के लिए ही इस चोटी का नाम माउंट एवरेस्ट रखा गया था ।

2. के2 – के2 के नाम से जाना जाने वाले इस कंचनजंघा 2 पर्वत की ऊंचाई है 8,611 मीटर, ये पर्वत POK में स्थित है।

3. कंचनजंघा – सबसे ऊंची चोटियों में कंचनजंघा तीसरे स्थान पर आती है जो सिक्किम और नेपाल के बीच स्थित है और ये 8,586 मीटर ऊँची है।

4. ल्होत्से – नेपाल, तिब्बत और चीन की सीमा पर स्थित ल्होत्से चोटी की ऊंचाई है 8,516 मीटर।

5. मकालू – नेपाल और चीन की सीमा के पास स्थित इस मकालू चोटी की ऊंचाई है 8,485 मीटर।

6. चोयु – चोयु चोटी भी नेपाल और चीन की सीमा पर ही स्थित है जिसकी ऊंचाई है 8,201 मीटर।

7. धौलागिरी – नेपाल में स्थित ये धौलागिरी चोटी पूरी बर्फ से ढकी रहती है, इसकी ऊंचाई है 8,167 मीटर। इस चोटी पर चढ़ना बेहद कठिन है।

8. मनास्लु – मनास्लु चोटी भी नेपाल में स्थित है जिसकी ऊंचाई है 8,163 मीटर। 1956 में सबसे पहले एक इंसान इस चोटी पर चढ़ा था।

9. किलर माउंटेन – पाकिस्तान के गिलगिट बालटिस्तान में स्थित पवर्त किलर माउंटेन की ऊंचाई है 8,126 मीटर। बताया जाता है की इस चोटी पर चढ़ना सबसे कठिन है।

10. अन्नपूर्णा – उत्तर मध्य नेपाल में स्थित इस अन्नापूर्णा चोटी की ऊंचाई है 8,091 मीटर। माउंट एवरेस्ट पर चढ़ाई करने के अभ्यास के लिए लोग अक्सर पहले अन्नपूर्णा पर ही चढ़ाई करते हैं।

“यह विश्व की सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषाएँ”
“ये है विश्व की सबसे बड़ी सोने की खान”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।