दुनिया के सबसे घातक लड़ाकू विमान

998

लड़ाकू विमानों का एक युद्ध में क्या रोल होता है यह हम सब जानते हैं। इसी के चलते आज हम आपको विश्व के सबसे घातक लड़ाकू विमानों के बारे में बताने जा रहे हैं यह जानकारी आपको यह अंदाजा लगाने में मदद करेगी कि कौन सा देश कितना ताकतवर है। तो चलिए इसके बारे में विस्तारपूर्वक जानते हैं।

एफ 35-लाइटनिंग – यह विमान अमेरिका के पास है और अमेरिका इसे सिर्फ शक्तिशाली देशों को ही देता है जैसे कि ऑस्ट्रेलिया, जापान, इस्राइल और दक्षिण कोरिया इस विमान की ताकत का कोई तोड़ ही नहीं है।

टी-50 – यह विमान पूरे विश्व में सिर्फ भारत और रूस के पास है यह विमान रेडार के द्वारा भी पकड़ा नहीं जा सकता और यह बहुत ही ताकतवर विमान है।

चेंगदू जे-10 – यह विमान चीन के पास है और चीन ने इसे पाकिस्तान को भी दे रखा है। पाकिस्तान में यह थंडर के नाम से जाना जाता है। चीन की सेना अभी इस प्रकार के 400 विमानों का उपयोग कर रही है।

डसाल्ट रॉफेल – यह विमान फ्रांस के पास है और इसमें खुद का एक रडार सिस्टम है। इस विमान के लिए भारत ने भी अभी हाल ही में फ्रांस के साथ सौदा तय किया है।

एफ-22 रैप्टर – यह विमान अमेरिका के पास है यह विमान किसी भी रडार की पकड़ में नहीं आ सकता। इस विमान को बनाने के लिए अमेरिका ने खास कानून बनाकर इसे किसी दूसरे देश की पहुंच से बाहर रखा हुआ है। यानी कि कोई भी देश इसे खरीद नहीं सकता।

सी हारियर – यह विमान ब्रिटिश सेना के पास है इस विमान को भारतीय नौसेना भी आजकल उपयोग कर रही है।

यूरोफाइटर टाइफून – इस विमान को जर्मनी, इटली, ब्रिटेन और स्पेन ने साथ मिलकर बनाया है। यह विमान भी खुद का एक रेडार साथ में ही लेकर चलता है।

डगलस एफ-15 स्ट्राइक – यह विमान भी अमेरिका के पास है और यह अपने श्रेणी का बहुत ही ताकतवर विमान है। दुश्मन के इरादों को नेस्तनाबूद करने में यह पूर्ण रूप से सक्षम है।

तेजस – यह विमान भारत द्वारा निर्मित है और इसकी सबसे बड़ी खूबी यह है कि यह किसी भी मौसम में उड़ान और हमला कर सकता है। यह विमान काफी हल्का है और यह कम ऊंचाई में भी उड़ान भर सकता है यह 15 मिनट में पाकिस्तान के किसी भी शहर को तहस-नहस कर सकता है।

ग्रिपेन – यह विमान भी अपनी श्रेणी का बहुत ही ताकतवर विमान है। यह विमान ब्राजील के पास है और यह किसी भी प्रकार के हमले में इस्तेमाल किया जा सकता है।

“दुनिया के सबसे खतरनाक रासायनिक हथियार”
“दुनिया के सबसे विचित्र गांव”
“दुनिया के सबसे अनोखे फेस्टिवल”

Add a comment