दुनिया के सबसे प्रदूषित शहर

757

आज हम आपको दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पर रहना बीमारियों को दावत देने जैसा है। अभी हाल ही में दिल्ली में बढ़ा प्रदूषण चर्चा का विषय बना हुआ है इसी दौरान हम चाहेंगे कि आप यह जान लें कि पूरे विश्व में कौन कौनसे सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर है और जहां रहना आसान नहीं है।

तिआनयिंग टाउन, चीन

चीन में प्रदूषण भारत से कहीं ज्यादा है फैक्ट्री और कारखानों का धुआं यहां के माहौल को जहरीला बनाता जा रहा है। खासकर इस शहर में लेड और अन्य जहरीले तत्व यहां के माहौल में घुल चुके हैं जिससे पेट दर्द और किडनी से रिलेटेड प्रॉब्लम होना एक आम बात है।

चेर्नोबील, यूक्रेन

यह शहर 1986 में खतरनाक न्युक्लियर डिजास्टर का सामना कर चुका है। इसी कारण यहां पर रेडिएशन बहुत अधिक मात्रा में फैल गया है और अभी तक इस से राहत नहीं मिल पाई है। यहां पर थायराइड, कैंसर जैसी प्रॉब्लम होती है, रेडिएशन के कारण यहां की हवा में यूरेनियम और प्लूटोनियम जैसे जहरीले पदार्थ फैले हुए हैं।

पेशावर, पाकिस्तान

पेशावर शहर में प्रदूषण बहुत अधिक मात्रा में है यहां पर ईंट के भटटो की वजह से यह प्रदूषण हो रहा है। जिसकी वजह से लंग कैंसर हार्ड प्रॉब्लम जैसी कई बीमारियां होना एक आम बात हो गई है।

उलानबातर, मंगोलिया

इस जगह का हेल्थ स्टैंडर्ड इंटरनेशनल हेल्थ स्टैंडर्ड के मुकाबले 6 गुना ज्यादा जहरीला पाया गया है। यहां पर सांस की बीमारी होना एक आम बात है और प्रदूषण दूर करने के लिए कई कदम भी उठाए गए हैं लेकिन कोई सफलता नहीं मिली है।

दिल्ली, इंडिया

अगर बात भारत कि की जाए तो भारत में सबसे ज्यादा खराब हवा दिल्ली की है जिसकी वजह से हर साल कई लोगों की मौत होती है।

नोरिल्स्क, रूस

इस जगह पर सल्फर डाइऑक्साइड, नीकल, कॉबाल्ट, कॉपर और लीड जैसे खतरनाक रसायन पाए जाते हैं जो हवा में इतने घुले मिले हुए हैं कि इस शहर की हवा ही जहरीली हो गई है।

लॉस एंजिलिस, अमेरिका

यह नाम सुनकर शायद आप चौंक गए होंगे लेकिन विकसित होने की कीमत भी अमेरिका को चुकानी पड़ी है। इस शहर का प्रदूषण 20 सालों से बढ़ता चला जा रहा है और सरकार के कई प्रयासों के बावजूद भी कोई सफलता नहीं मिली है।

कानपुर, इंडिया

यह भारत का दूसरा ऐसा शहर है जहां पर अत्यधिक प्रदूषण पाया जाता है। यहां पर ब्लड प्रेशर हार्टअटैक जैसी कई बीमारियां देखने को मिलती है। जिसका सीधा-सीधा कारण प्रदूषण को ही माना जाता है। सरकार के द्वारा उठाए गए कदम भी इस प्रदूषण को रोकने में कारगर सिद्ध नहीं हो रहे है।

लंदन, इंग्लैंड

यूरोप का यह शहर इतना प्रदूषित है की हर साल सिर्फ प्रदूषण की वजह से 10000 से भी अधिक लोगों की मृत्यु हो जाती है यहां की हवा में NO-2 गैस घुली हुई है।

सुकिंडा, ओड़िसा

यह भारत का तीसरा ऐसा राज्य है जहां पर कई माइनिंग प्लांट्स होने की वजह से काफी अधिक प्रदूषण पाया जाता है। इस शहर में 86.4% लोगों की मौत सिर्फ प्रदूषण के कारण ही हो रही है।

“रहने के लिहाज से बेस्ट हैं ये भारत के 10 शहर”
“ये हैं दुनिया के 10 सबसे खूबसूरत शहर”
“यह शहर हुबहू शिवलिंग जैसा दिखता है”

Add a comment